U.GjenAvay Forum

विवाद करना और विवाद कराना ही इस फोरम का रुल है !


    देखो हंस न देना...

    jalwa
    jalwa
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 37
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty देखो हंस न देना...

    Post by jalwa on Mon 01 Nov 2010, 1:15 am

    रेलगाडी की बर्थ पर संदूक रख कर एक व्यक्ति बैठने लगा तो पास बैठी मोटी महिला बोली, " इसे यहां से हटा लो, कहीं मेरे उपर गिर गया तो?" यात्री लापरवाही से बोला, " कोई बात नही इस मे टूटने वाली कोई चीज नही है।"


    ________________________
    मै एक धोकेबाज इंसान हू इस लिए बन हू यहाँ !
    jalwa
    jalwa
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 37
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by jalwa on Mon 01 Nov 2010, 1:16 am

    मधुशाला मे यह सूचना लिखी हुई थी -"अगर आप अपनी सारी वेदनाएं भूल जाने के लिए शराब पीना चाहते हैं, तो कृपया अपना बिल पहले अदा कर दें"।


    ________________________
    मै एक धोकेबाज इंसान हू इस लिए बन हू यहाँ !
    jalwa
    jalwa
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 37
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by jalwa on Mon 01 Nov 2010, 1:18 am

    पत्‍नी ( सिकंदर से) देखो जी, अगर तुम मेरे साथ नही चलोगे, तो मै भी शोपिंग के लिए नही जाऊगी।
    क्या तुम्हे मेरे साथ जाना इतना अच्छा लगता है ...सिकंदर ने खुश हो कर कहा ।
    अच्छा-वच्छा कुछ नही, पत्‍नी ने मुँह बनाते हुए कहा, सामान ऊठाने वाला भी तो कोई होना चाहिए।


    ________________________
    मै एक धोकेबाज इंसान हू इस लिए बन हू यहाँ !
    jalwa
    jalwa
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 37
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by jalwa on Mon 01 Nov 2010, 1:37 am

    सिकंदर अपने दोस्त खालिद से कहता है, देखो दोस्त चुंकि हम लोकतंत्र प्रणाली पर विशवास रखते हैं इसलिए हम ने आपने घर मे सुख शान्ति बनाए रखने के लिए एक सिस्टम बनाया है । मेरे पत्‍नी वित मंत्री है। मेरे सास रक्षा मंत्री है। मेरे ससुर विदेश मंत्री है और साली लोक सम्पर्क मंत्री है।
    खालिद : और आप शायद प्रधान मंत्री होगे?
    सिकंदर : नही यार, मै बेचारा तो जनता हू ।


    ________________________
    मै एक धोकेबाज इंसान हू इस लिए बन हू यहाँ !
    Don.One
    Don.One
    WebMaster
    WebMaster

    Posts : 103
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by Don.One on Mon 01 Nov 2010, 2:00 am

    हा हा हा क्या बात है भाई मजा आ गया दूसरे लोग भी होते तो और मजा आता héhé héhé guitar


    ________________________
    देखो हंस न देना... 393959_357794274248969_226893167339081_1359277_337654969_n
    Sikandar
    Sikandar
    फोरम मित्र
    फोरम मित्र

    Posts : 20
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by Sikandar on Mon 01 Nov 2010, 10:02 am

    jalwa wrote:सिकंदर अपने दोस्त खालिद से कहता है, देखो दोस्त चुंकि हम लोकतंत्र प्रणाली पर विशवास रखते हैं इसलिए हम ने आपने घर मे सुख शान्ति बनाए रखने के लिए एक सिस्टम बनाया है । मेरे पत्‍नी वित मंत्री है। मेरे सास रक्षा मंत्री है। मेरे ससुर विदेश मंत्री है और साली लोक सम्पर्क मंत्री है।
    खालिद : और आप शायद प्रधान मंत्री होगे?
    सिकंदर : नही यार, मै बेचारा तो जनता हू ।
    क्या बात गुरू हमे लपेट दिया बहुत नाइंसाफी है
    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Mon 01 Nov 2010, 3:52 pm

    Abhay wrote: हा हा हा क्या बात है भाई मजा आ गया दूसरे लोग भी होते तो और मजा आता héhé héhé guitar

    :D दुसरे लोग भी हैं. और तीसरे भी है. क्यों चिंता करते हो मित्र ?
    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Mon 01 Nov 2010, 3:58 pm

    aksh wrote:
    Abhay wrote: हा हा हा क्या बात है भाई मजा आ गया दूसरे लोग भी होते तो और मजा आता héhé héhé guitar

    :D दुसरे लोग भी हैं. और तीसरे भी है. क्यों चिंता करते हो मित्र ?
    सिकंदर " अक्ष भैया आप अपना फोरम पर क्यों नहीं आ रहे ?"

    अक्ष " यार एक दिक्कत है "

    सिकंदर " वो क्या ?"

    अक्ष " हर जगह जाकर दोबारा से पैदा होना पड़ता है "
    cheers cheers
    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Mon 01 Nov 2010, 4:02 pm

    एक लड़की क्लास में देर से पहुंची तो टीचर ने पुछा " ये आने का टाइम है ?"

    लड़की " सर वो एक लड़का पीछा कर रहा था इसलिए देर हो गयी "

    टीचर " अगर लड़का पीछा कर रहा था तो देर कैसे हुयी जल्दी जल्दी चल कर आना चाहिए था. "

    लड़की " में क्या करती वो लड़का इतना धीरे धीरे चल रहा था. "
    jalwa
    jalwa
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 37
    Join date : 31.10.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by jalwa on Mon 01 Nov 2010, 4:50 pm

    एक बार लालू जी ने अंग्रेजी सीखने का फैसला किया. एक अंग्रेज को ट्यूशन के लिए रखा गया.
    दो महीने तक दोनों एक ही कमरे में बंद रहे. कोई भी न बाहर आया न बाहर से अन्दर गया.दो महीने बाद कमरा खोला गया. लालू जी बाहर आए और बोले........ए बी सी डी ई ऍफ़ जी.... हमहू अंग्रेजीवा सीख गएल हूँ.
    थोड़ी देर बाद अंग्रेज बाहर आया और बोला......ई ससुर का नाती कोनू अंग्रेजी वंगरेजी नहीं सीख सकत.


    ________________________
    मै एक धोकेबाज इंसान हू इस लिए बन हू यहाँ !
    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Mon 01 Nov 2010, 5:05 pm

    jalwa wrote:एक बार लालू जी ने अंग्रेजी सीखने का फैसला किया. एक अंग्रेज को ट्यूशन के लिए रखा गया.
    दो महीने तक दोनों एक ही कमरे में बंद रहे. कोई भी न बाहर आया न बाहर से अन्दर गया.दो महीने बाद कमरा खोला गया. लालू जी बाहर आए और बोले........ए बी सी डी ई ऍफ़ जी.... हमहू अंग्रेजीवा सीख गएल हूँ.
    थोड़ी देर बाद अंग्रेज बाहर आया और बोला......ई ससुर का नाती कोनू अंग्रेजी वंगरेजी नहीं सीख सकत.

    एक बार जापान से एक प्रतिनिधि मंडल लालू जी से मिलने भारत आया और उनकी राय थी " अगर भारतीय रेल हमें तीन साल के लिए दे दो तो हम यहाँ पर भी ऐसा कर देंगे कि लोग भूल जायेंगे कि ट्रेन का लेट होना किसे कहते हैं. "

    लालू जी बोले " दखिये ! आप हमें तीन हफ्ते के लिए जापान का रेल दे दीजिये लो पूरा का पूरा टाइम टेबल ही भूल जायेंगे "
    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:03 pm

    एक आदमी डेली रेड लाईट एरिया में जाकर रेट पता करके चला जाता था.

    पर किसी के साथ कभी भी सम्बन्ध नहीं बनाये.

    एक दिन एक दलाल बोला " तुम रोज आते हो और सिर्फ रेट पता करके चले जाते हो. ऐसा क्यों ?"

    आदमी बोला " यार में ये देखने आता हूँ की घरवाली कहीं महँगी तो नहीं पड़ रही "



    ________________________

    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:04 pm

    एक बार संता भीड़ वाली बस में जा रहा था. गलती से उसका हाथ बगल में खड़ी लड़की को टच हो गया.

    लड़की " ये तुम ठीक नहीं कर रहे "

    संता " सोरी "

    लड़की " मेरा मतलब था, थोड़ा ठीक से करो "



    ________________________

    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:05 pm

    एक भीड़ भरी बस में एक लड़का एक लड़की से सट कर खड़ा हुआ था. उसके बगल में एक और लड़का खड़ा हुआ था जो ये देख रहा था.

    लड़का " आपके संतरे दब रहे हैं " ( लड़की कुछ नहीं बोली )

    लड़का " फिर से बता रहा हूँ आपके संतरे दब रहे हैं "

    लड़की " संतरे मेरे दब रहे हैं तुझे क्या तकलीफ है "

    लड़का " संतरे आपके दब रहे हैं तो क्या हुआ, रस तो इधर से निकल रहा है "



    ________________________

    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:06 pm

    एक जापानी इंडिया घूम कर वापस जा रहा था. टैक्सी में बैठ कर बाहर के नज़ारे देख रहा था.

    एक होंडा सिटी कार को देख कर जापानी बोला " होंडा सिटी, हाउ फास्ट ! मेड इन जापान "

    टैक्सी ड्राइवर " जी ठीक है "

    एक टोयोटा को देख कर जापानी फिर बोला " टोयोटा कोरोला, हाउ फास्ट ! मेड इन जापान "

    टैक्सी ड्राइवर " जी ठीक ही है "

    एक सुजूकी को देख कर जापानी फिर बोला " सुजुकी, हाउ फास्ट ! मेड इन जापान "

    टैक्सी ड्राइवर " ठीक है जी "

    जब एअरपोर्ट पहुँच कर जापानी ने बिल पुछा तो ड्राइवर बोला " जी ५००० रूपये "

    जापानी " ५० किलोमीटर के ५००० रूपये "
    टैक्सी ड्राइवर " साले अब समझ में आएगा. टैक्सी मीटर, हाउ फास्ट ! मेड इन इंडिया "


    ________________________

    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:09 pm

    एक आदमी ५० बच्चों के साथ ट्रेन में सफ़र कर रहा था. किसी ने पुछा " ये सभी आपके बच्चे हैं ?"

    आदमी " नहीं भाई साहब ये मेरे बच्चे नहीं हैं. में एक कन्डो* कंपनी में काम करता हूँ और ये सब कस्टमर कम्प्लेंट हैं "



    ________________________

    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:11 pm

    सेक्रेटरी " बॉस क्या आप मुझे नौकरी से निकल रहे है ?"

    बॉस " नहीं ऐसी तो कोई बात नहीं है "

    सेक्रेटरी " तो फिर आपने अपने काबिन से सोफा क्यों निकलवा दिया है ?"



    ________________________

    aksh
    aksh
    सदस्य
    सदस्य

    Posts : 21
    Join date : 01.11.2010

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by aksh on Tue 02 Nov 2010, 2:19 pm

    नसबंदी की टीम को गाँव में आया देख एक आदमी दुसरे से बोला " ये लोग अब क्यों आये हैं. हमारा कनेक्शन तो ये पहले ही काट चुके हैं "
    दूसरा बोला " हो सकता है अब हैण्ड सेट लेने आये हों "


    ________________________


    Sponsored content

    देखो हंस न देना... Empty Re: देखो हंस न देना...

    Post by Sponsored content


      Current date/time is Tue 25 Jun 2019, 7:19 am